Social Business/ Social Intranet explained in HINDI. सोशल इंट्रानेट – कार्यकुशलता को नए आयाम दे सकता है. (Social Intranet could add new dimensions to work efficiency)

Imageहम सभी फेसबुक, ट्विटर  इत्यादि का उपयोग करते हैं  लेकिन ये ज्यादातर अपने निजी उपयोग  लिए होता है। अपने दोस्तों से संपर्क करने, नए मित्र बनाने, वीडियो / फोटोज शेयर करने में यह सोशल नेटवर्क्स काफी मददगार हो रहे हैं।

भारत में फेसबुक उपयोग करने वालों की संख्या करीब 12 करोड़ पहुँच चुकी है। जहाँ ये उपयोग निरंतर बढ़ रहा है, सोशल नेटवर्क्स  का एक नया रूप ‘सोशल इंट्रानेट’ जिसे आप उसका औद्योगिक ( Enterprise) रूप भी कह सकते हैं,  काफी प्रचलन में आ रहा है। सोशल इंट्रानेट किसी भी व्यापारिक संसथान में जहाँ बहुत सारे व्यक्ति काम करते हैं उपयोग में लाया जा सकता है. आज जो ईमेल सिस्टम का  हम उपयोग  करते हैं वह 1 9 7 1 में बनायी गयी थी . पिछले 4 0  सालों में उसमे कोई परिवर्तन नहीं आया है जबकि व्यापारिक क्षेत्र  और हमारा कार्य दोनों पूरी तरह बदल चुके है। विभिन्न संस्थानों  में काम करने वाले व्यक्तियों से पूछिये  की ईमेल का उपयोग कर अपना काम बेहतर तरीके से करना अब कितना मुश्किल हो गया है। दिन भर में सैकड़ों इमेल्स आती है. बहुत सारी  ‘फॉरवर्ड्स’, जंक मेल्स  इत्यादि सब इनबॉक्स में आकर भर जाती हैं। इन में से अपने काम की मेल कौन सी है यह सब खोजने में घंटों लग जाते है। जब एक मेल बहुत सारे लोगों को भेजी जाती है तो यह पता करना मुश्किल हो जाता है की ‘किसको क्या करना है’. इस कारण कार्य करने में अकारण देरी भी होती है. विभिन्न शोधो से भी पता चला है की अपनी समय का एक बहुत बड़ा हिस्सा लोग  इमेल्स  खोजने में व्यर्थ कर देते हैं.

क्या कोई ऐसा तरीका है जिस से व्यक्ति कार्य को बेहतर तरीके से कर सके। वो  बेहतर तरीके से अपने सह कर्मियों के साथ सम्बद्ध ( Engage)  हो सके.  उनके साथ बेहतर सहयोग ( Collaborate)  कर सके ?

इसका जवाब है हाँ .

–  सोशल इंट्रानेट कार्य क्षेत्र को बेहतर बनाने में इस तरह बहुत मददगार हो सकता है.

–  व्यक्ति अपने सह कर्मियों के साथ बेहतर सम्बद्ध होता है और सहयोग कर सकता है

–  उपलब्ध संसाधनों का और समय बेहतर उपयोग कर सकता है.

–  ग्राहकों को बेहतर सेवाएं दी जा सकती है

–  पूरे संसथान को एक धागे में पिरो कर कार्य की गति को नया आयाम दिया जा सकता है.

अब आप पूछेंगे की सोशल इंट्रानेट यह कैसे कर सकता है?

 

– सोशल इंट्रानेट मैं सब लोग किसी भी डॉक्यूमेंट, प्रोजेक्ट, कार्य पर अपना दृष्टिकोण, अपने विचार  तुरंत व्यक्त कर सकते है. उसके लिए बार बार इधर उधर मेल भेजने की ज़रुरत नहीं। वास्तव में सोशल इंट्रानेट सभी सम्बंधित व्यक्तियों को एक साथ जोड़ कर जल्दी निर्णय लेने और कार्य करने का प्लेटफार्म प्रदान करता  है.

– मान लीजिये 5 व्यक्ति एक ही डॉक्यूमेंट पर कार्य कर रहे है। ईमेल द्वारा अद्यतन डॉक्यूमेंट की उपलब्धता सुनिश्चित करना मुश्किल होता है. हम खोजते रहते हैं की सबसे लेटेस्ट डॉक्यूमेंट कौन सा है. जबकि सोशल इंट्रानेट में हमेशा लेटेस्ट डॉक्यूमेंट ही उपलब्ध होता चाहे कितने भी लोग उस पर कार्य कर रहे हों।

–  कम्युनिटी Communities) द्वारा हम किसी खास विषय/ प्रोजेक्ट चर्चा कर सकते है/ उसकी प्रोग्रेस को मॉनिटर कर सकते हैं/ आवश्यक संसाधनों को साथ ला  सकते है ।

– ग्राहक सेवाएं कम्युनिटी के माध्यम से काफी सफल तरीके से की जा सकती है। ग्राहकों के साथ निरंतर संपर्क में रहना, बेहतर सम्बद्ध रहना कम्युनिटी  के माध्यम से संभव है. ग्राहकों  और एम्प्लोयीज़ दोनों को GAMIFICATION के माध्यम से बेहतर रूप से जोड़ा जा सकता है

– सोशल इंट्रानेट/ सोशल बिज़नेस  के द्वारा किसी भी एंटरप्राइज को बेहतर कार्य क्षमता दी जा सकती है। शोधों से पता चला है की सोशल बिज़नस के द्वारा कार्य क्षमता में का इजाफा हो सकता है. अर्थात प्रति सप्ताह एक दिन का कार्य ज्यादा किया जा सकता है. इस तरह बहुत से आयाम हैं जिस पर सोशल बिज़नस के माध्यम से उत्कृष्टता  लायी जा सकती है

क्या आपको सोशल बिज़नेस  बारे में और जानना है तो कृपया निम्न फॉर्म भरें

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s